एक ऐसा शक्स जो कभी हार नहीं मानता। आखरी कोशिश के बाद भी एक चांस लेना पसंद करता है। पत्रकार बना क्योंकि समय की नजाकत थी। अच्छा लिख लेता हूँ, क्योंकि शौक को अपना प्रोफेशन बनाया। खुद पर यकीं है और मुझे नहीं लगता कि कोई ऐसा काम है, जिसे मैं नहीं कर सकता। अपने फैसलों पर टिके रहना मेरी आदत है।

Sunday, May 27, 2007

राजस्थान पत्रिका से 2002 में पत्रकारिता की शुरुआत की। मई 2011 में आर।ए. पोद्दार से मार्केटिंग में एमबीए (एग्जीक्यूटिव) करके राजस्थान पत्रिका से वरिष्ठ उप-सम्पादक पद से इस्तिफा दिया और एंटरप्रेन्योरशिप में कदम बढ़ा दिए।शुरुआती दिनों से ही पत्रिका के रविवारीय, बॉलीवुड, परिवार मैग्जीन, चुनाव स्पेशल टीम, बजट विशेष टीम में अनुभव लिया। 2005 से पत्रिका के लिए लगातार स्पेशल कवरेज की। नवम्बर 2006 में तेलगी के बाद देश का दूसरे सबसे बड़े स्टाम्प घोटाले का खुलासा किया। सिगरेट तस्करी, हीरे की तस्करी, वन्य जीवों की तस्करी जैसे दर्जनभर घोटालों का खुलासा किया। पेट्रोल में मिलावट के रैकेट का खुलासा करने की वजह से झाबरमल्ल शर्मा पत्रकारिता पुरस्कार की सर्वश्रेष्ठ खोजपूर्ण रिपोर्ट श्रेणी मेंं राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया। पत्रकारिता में योगदान के लिए युवा रत्न अवॉर्ड, परम हितैषी अवॉर्ड और महाराजा सूरजमल आउटस्टैंडिंग टैलेंट ऑफ द ईयर अवॉड मिले। पत्रिका की ईयर बुक 2007 के सम्पादन मण्डल का सदस्य रहने के साथ-साथ केसीके इंटरनेशनल अवॉर्ड के लिए कॉर्डिनेटर यूएस, एशिया की जिम्मेदारी संभाली। मई 2010 से पत्रिका स्पॉट लाइट (स्पेशल टीम) में अहम भूमिका निभाई। फिलहाल सम्पादक ऑफिसर्स टाइम्स।



Praveen Jakhar Editor Officers Times Corp। Office : 265/05, Sector - 26, Pratap Nagar, Jaipur M : editor@officerstimes.com W : www.officerstimes.com B : www.praveenjakhar.blogspot.com C : +91 800 300 1100

0 comments:

 
Design by Wordpress Theme | Bloggerized by Free Blogger Templates | coupon codes